सिबिल स्कोर कैसे बढ़ाएं मास्टर प्लान

 आपकी लोन एप्लीकेशन रिजेक्ट करनी है या एक्सेप्ट करनी है यह एक लोन कंपनीआपके सिबिल स्कोरके अनुसार तय करती है। क्रेडिट स्कोर रेटिंग 300 से 900 के बीच में होती है। 750 से ऊपर वाले क्रेडिट स्कोर वाले लोगों को लोन कंपनियां आसानी से लोन दे देती हैं। लेकिन इसके विपरीत 700 से नीचे सिबिल स्कोर वाले लोगों के लोन एप्लीकेशन अक्सर रिजेक्ट हो जाते हैं। इस पोस्ट में मैं आपको सिबिल स्कोर कैसे बढ़ाएं (cibil score kaise badhaye) का एक मास्टर प्लान दूंगा। जिसको फॉलो करके आप अपना स्कोर बढ़ा सकते हैं। लेकिन मैं पहले ही बता दूं इसमें समय लगेगा लेकिन यकीनन आपका स्कोर बढ़ेगा।

भारत में लगभग चार क्रेडिट स्कोर कंपनियां है जो कि रिजर्व बैंक आफ इंडिया के द्वारा मान्यता प्राप्त है जो क्रेडिट हिस्ट्री का रिकॉर्ड रखती हैं। और बताती हैं कि किसी व्यक्ति का या किसी संस्था का क्रेडिट स्कोर क्या है।

इस क्रेडिट स्कोर की मदद से लोन देने वाली कंपनियां यह तय कर पाती है कि किसी व्यक्ति विशेष को लोन देने पर उन्हें किसी प्रकार का जोखिम है या नहीं।

अभी के मानकों के हिसाब से 700 से नीचे सिबिल स्कोर वाले लोगों को लोन कंपनियां लोन देने से परहेज करती हैं और अक्सर उनकी लोन एप्लीकेशन रिजेक्ट कर देती हैं चाहे वह पर्सनल लोन एप्लीकेशन हो या होम लोन एप्लीकेशन।

cibil score kaise badhaye hindi


सिबिल स्कोर कैसे बढ़ाए - CIBIL Score kaise badhaye

  1. अपनी कमियां ढूंढे: अगर आप जानना चाहते हैं कि सिबिल कैसे ठीक (CIBIL kaise thik kare) करें तो इसके लिए सबसे पहले आपको यह जांचना होगा कि आपका क्रेडिट स्कोर किन कमियों के कारण खराब है और उन कमियों पर आपको काम करना होगा। उदाहरण के तौर पर अगर आप ऑनलाइन बैंकिंग में कम लेनदेन करते हैं तो उसे बढ़ाना शुरू करें पैसे ट्रांसफर ऑनलाइन करें, यूपीआई का उपयोग करना शुरू करें पेमेंट करने के लिए। इसी तरह एक अच्छा बैंक बैलेंस मेंटेन करना शुरू करें उदाहरण के तौर पर कम से कम मंथली एवरेज बैलेंस ₹10000 तक का रखें।
  2. ज्यादा लोन एप्लीकेशन मत डालें: अगर आपका सिबिल स्कोर 700 से नीचे है तो इसका मतलब है कि आपका पर्सनल लोन एप्लीकेशन कोई कंपनी एक्सेप्ट नहीं करेगी। इसीलिए सबसे पहले आपको अपना क्रेडिट स्कोर इंप्रूव करना पड़ेगा। उसके बाद ही कोई एप्लीकेशन डाले। यह सुनिश्चित करें कि एक से ज्यादा कंपनियों में आपका कोई भी अप लोन एप्लीकेशन ना हो। इससे आपका क्रेडिट स्कोर बहुत पूरी तरह से और गिर सकता है। सबसे पहले अपना क्रेडिट स्कोर बढ़ाने पर कम करें। क्योंकि बेवजह ज्यादा कंपनियों में लोन एप्लीकेशन देने से कोई फायदा नहीं होगा। हो सकता है दो-तीन महीने में अगर आप दिए गए टिप्स को फॉलो करें तो आपका क्रेडिट स्कोर अचानक बढ़ जाए। अगर आपको पर्सनल लोन की ज्यादा जरूरत है तो अपनी किस्मत आप एक कंपनी में लोन एप्लीकेशन डालकर आजमा सकते हैं लेकिन उससे ज्यादा एप्लीकेशन मत डाले।
  3. छोटा लोन बंद करें: अगर आपके छोटे लोन चल रहे हैं जिनका भुगतान करके आप उनको बंद करने में सक्षम है तो अभी उन लोन अकाउंट को फुल पेमेंट के साथ बंद कर दें। ऐसा करने से आपका क्रेडिट स्कोर अचानक बढ़ेगा। ऋणों के पूर्ण भुगतान का सिबिल स्कोर पर अनुकूल प्रभाव पड़ता है। यदि क्रेडिट कार्ड धारक एवं ऋण धारक अपने सिबिल स्कोर को उच्च बनाए रखना चाहते हैं तो उनके लिए यह अत्यंत महत्वपूर्ण है कि वे अपने क्रेडिट कार्ड एवं ऋण का पूर्ण रूप से भुगतान करें क्योंकि छोटी से छोटी बकाया राशि भी सिबिल स्कोर पर प्रतिकूल प्रभाव छोड़ सकती है।
  4. समय पर बिलों का भुगतान करें: अगर सिबिल स्कोर बढ़ाना है तो यह सुनिश्चित करें कि आप अपने क्रेडिट कार्ड बिलों का भुगतान पूरे समय पर करें। अगर आपका एक भी क्रेडिट कार्ड बिल छूट जाता है तो इससे आपके क्रेडिट स्कोर में से 50 से 70 पॉइंट कम होने के चांस होते हैं। इसी तरह कोशिश करें कि मिनिमम अमाउंट ड्यू (minimum amount due) भी पे नहीं करना है अपने क्रेडिट कार्ड का फुल अमाउंट पे करें। इससे ही आपका क्रेडिट स्कोर बढ़ेगा। मिनिमम अमाउंट ड्यू पे करने पर करने से आपका सिबिल स्कोर कम होता है ना कि बढ़ता है। इसी तरह और सभी बिल भी टाइम पर पे करें।
  5. Loan EMI टाइम पर भरे: अगर आपका पहले से कोई पर्सनल लोन, मोबाइल लोन या गैजेट लोन चल रहा है तो यह ध्यान रखें कि उसका एक भी Loan EMI मिस नहीं होना चाहिए हर EMI टाइम पर भरे।
  6. क्रेडिट 30% से कम रखें: अगर आप उनमें से हैं जिनका हर महीना क्रेडिट कार्ड पर गुजरता है तो यहां आपको बहुत मेहनत करनी पड़ेगी। आपको अपने क्रेडिट कार्ड खर्च कम करने पड़ेंगे और ज्यादा से ज्यादा 30% तक सकते हैं। अपने हर महीने के खर्चे का 30% से ज्यादा क्रेडिट कार्ड से स्पेंड ना करें। ऐसा करने से आपका क्रेडिट स्कोर अच्छा नहीं होगा क्योंकि यह दर्शाता है कि आपके पास महीने के गुजारे के पैसे नहीं होते हैं और आप क्रेडिट कार्ड से उधार लेकर अपना महीना चलाते हैं।

ऊपर दिए गए टिप्स को फॉलो करके आप अपना सिविल स्कोर बढ़ा (cibil score badhaye) सकते हैं। इसके अलावा अगर आप कर सकते हैं तो मैं आपको सलाह दूंगा कि आप एक PPF अकाउंट खोलें और एक म्युचुअल फंड SIP भी शुरू करें। यह भी आपके credit score को बढ़ाने में मदद करेंगे।

म्युचुअल फंड में शुरुआत करने के लिए आप जीरोधा देश का नंबर वन डिस्काउंट ब्रोकर के साथ अपना डिमैट अकाउंट खोल सकते हैं।

क्या ऑनलाइन सिबल्स को चेक नहीं करना चाहिए?

अक्सर कुछ लोगों को लगता है कि ऑनलाइन क्रेडिट स्कोर चेक नहीं करना चाहिए इससे क्रेडिट स्कोर पर असर पड़ता है। लेकिन आपको बता दे यह सिर्फ एक अफवाह है ऐसा कुछ नहीं होता है। ऑनलाइन क्रेडिट स्कोर करने से आपके क्रेडिट स्कोर पर किसी भी तरह का असर नहीं पड़ता है। उल्टा जब आप अपना क्रेडिट स्कोर समय-समय पर जांचते हैं तो इससे आपको आकलन करने का मौका मिलता है और आप देख सकते हैं कि कैसे आप अपने सिबिल स्कोर को और अच्छा कर सकते हैं।